सार्वभौमिक आचार संहिता के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

This page is a translated version of the page Universal Code of Conduct/FAQ and the translation is 97% complete.
Outdated translations are marked like this.
सार्वभौमिक आचार संहिता


परामर्श

१. UCoC अन्य आंदोलन रणनीति पहलों और परामर्शों से कैसे संबंधित है, उदाहरण के लिए मूवमेंट चार्टर?
यूनिवर्सल आचार संहिता (यूसीओसी) एक प्रमुख नीतिगत पहल है जो विकिमीडिया 2030 सामुदायिक परामर्श और रणनीति प्रक्रिया से उभरी है। अभियान रणनीति चर्चा की तीसरी सिफारिश समुदाय के भीतर सुरक्षा और भागीदारी प्रदान करना थी जिसमें आचार संहिता पहलों को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही थी। वैश्विक चर्चा आंदोलन चार्टर्स जैसे अन्य अभियान रणनीति पहलों के लिए वैश्विक आचार संहिता परामर्श के समानांतर आयोजित किए जा रहे हैं।
२. स्थानीय परामर्श के लिए समुदायों का चयन किस आधार पर किया गया?
विकास दर और स्थानीय आचरण नीतियों की स्थिति सहित विभिन्न कारकों के आधार पर समुदायों का चयन किया गया था। इस प्रक्रिया के बारे में अधिक जानकारी यहाँ उपलब्ध है। योग्य स्थानीय भाषा सहायकों की उपलब्धता भी अंतिम चयन को प्रभावित करने वाले कारकों में से एक थी।
चरण-१ की तरह, कई कारकों ने चरण-२ के लिए समुदायों के चयन को निर्देशित किया। पहला था स्थानीय नीतियों के संबंध में विभिन्न भाषा विकिमीडिया परियोजनाओं के मौजूदा प्रवर्तन बुनियादी ढांचे पर डेटा। फैसिलिटेटर्स को मौजूदा प्रवर्तन के विभिन्न स्तरों वाले समुदायों का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया है, ताकि विविध दृष्टिकोणों को सामने लाया जा सके। योग्य फैसिलिटेटर्स की उपलब्धता और विस्तृत भौगोलिक कवरेज की आकांक्षाओं ने भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
३. क्या विकिमीडिया फाउंडेशन ने यह घोषणा की है कि सभी विकिमीडिया परियोजनाओं पर एक वैश्विक आचार संहिता लागू होगी?
जी। UCoC उपयोग की शर्तें का हिस्सा बनने के बाद कोई भी समुदाय इस वैश्विक नीति से बाहर रहने के लिए सक्षम नहीं होगा। यदि मौजूदा स्थानीय नीतियों या प्रथाओं में यूएसओसी का उल्लंघन पाया जाता है, तो ऐसे मामलों को इस प्रक्रिया में जल्द से जल्द उठाया जाना चाहिए ताकि विवादों की जाँच और समाधान किया जा सके। २ फरवरी, २०२१ को, न्यासी बोर्ड ने UCoC को एक वैश्विक नीति के रूप में औपचारिक रूप से स्वीकृति दे दी है, जो विकिमीडिया फाउंडेशन की सभी परियोजनाओं और गतिविधियों पर लागू होगी। पहले चरण की शुरुआत के बाद से, इस नीति का प्रारूप तैयार करने के लिए मेटा, विकिमीडिया-l और कई व्यक्तिगत परियोजनाओं में सामुदायिक सहयोग और परामर्श किया गया है। छोटे और मध्यम आकार के विकियों के लिए घोषणाओं की एक सूची इस पृष्ठ पर उपलब्ध है। बड़े विकी के भीतर परामर्शों का विवरण यहाँ उपलब्ध है।

अनुवाद

४. क्या यूसीओसी और इसके सहायक दस्तावेज सभी भाषाओं में उपलब्ध होंगे?
यूएसओसी परियोजना टीम इस नीति के सभी प्रमुख दस्तावेजों और घोषणाओं को अधिक से अधिक भाषाओं में अनुवाद करने के लिए एजेंसी और स्वैच्छिक अनुवाद को संयोजित करेगी। यह एक बहुत बड़ा प्रयास है जिसमें समय लग सकता है और हम इसे अकेले नहीं कर सकते। हम उन स्वयंसेवकों को प्रोत्साहित करना चाहते हैं जो सामग्री का अनुवाद करना चाहते हैं या जो इसे एक नई भाषा में अनुवादित करना चाहते हैं और इसे सबके लिए उपलब्ध कराना चाहते हैं, हमें ucocproject wikimedia.org पर ईमेल करें। हालाँकि सभी सामग्रियों का सभी भाषाओं में अनुवाद करना संभव नहीं है, हम सभी भाषाओं में, यूसीओसी प्रक्रियाओं में यथासंभव व्यापक भागीदारी को सक्षम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
५. अनुवाद की विसंगतियों या व्याख्या के विरोध के मामले में, प्रारूप के किस भाषा संस्करण को आधिकारिक संस्करण माना जाएगा?
यूएसओसी टीम यूएसओसी नीति, प्रवर्तन दिशा-निर्देशों और संबंधित पृष्ठों के अनुवाद को यथासंभव अधिक से अधिक भाषाओं में प्रकाशित करने के लिए काम कर रही है। हालाँकि अनुवाद सटीक नहीं होते हैं, और हम अनुवाद को पूरा करने के लिए कई रणनीतियों (भुगतान एजेंसियों, स्वयंसेवकों, कर्मचारियों, आदि) का उपयोग करते हैं, प्रत्येक की अपनी अशुद्धियाँ और चुनौतियाँ होती हैं। समुदायों को शिकायतों की पहचान करने और निवारण में सहायता करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, और यह समझने के लिए कहा जाता है कि शिकायतों को हल करने में समय लगेगा। जब तक यह प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती, तब तक अंग्रेजी संस्करण ही आधिकारिक संस्करण रहेगा।

प्रवर्तन

६. यूसीओसी के प्रवर्तन के लिए क्या योजनाएँ हैं, जैसे इसे लागू करने के लिए कौन जिम्मेदार है?
विकिमिडिया फाउन्डेसन न्यासी समिति (बोर्ड, बोर्ड अफ ट्रस्टी, अथवा BoT) के निर्देशन अनुसार प्रवर्तन, परियोजना के दूसरे चरण का फोकस है, जो यूएसओसी के अंतिम मसौदा संस्करण को २ फरवरी, २०२१ को अनुमोदित और घोषित किए जाने के बाद शुरू हुआ। इसका मतलब यह है कि विकिमीडिया समुदाय निर्धारित करेंगे कि यूएसओसी को स्थानीय स्तर पर कैसे लागू, व्याख्या और प्रवर्तन किया जाएगा। सभी प्रभावित पार्टियों और समुदायों को चर्चा में सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है और स्थानीय स्तर पर सामुदायिक प्रथाओं, नीतियों और प्रक्रियाओं की एक श्रृंखला पर उनका इनपुट होता है। अंत में, UCoC और इसकी कार्यान्वयन रणनीतियाँ पूरे अभियान के दौरान आधार रेखा के रूप में कार्य करने के लिए हैं। व्यक्तिगत परियोजना समुदायों को अभी भी इस प्रयास के समान आचरण की अपनी नीतियां विकसित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
७. UCoC के उल्लंघनों को वास्तविक जीवन में कैसे नियंत्रित किया जाएगा, उदाहरण के लिए, फाउंडेशन या विकिमीडिया संबद्ध कार्यक्रमों में जहाँ मित्रतापूर्ण स्थान नीति भी लागू होती है? इनमें से किस नीति को प्राथमिकता मिलेगी?
जबकि यूएसओसी दिशानिर्देशों का एक न्यूनतम ढाँचा प्रदान करता है, स्थानीय नीतियों से हमेशा पहले परामर्श (देखा जाना) किया जाना चाहिए और जैसे ही वे अधिनियमित (enacted) होते हैं, उन्हें लागू किया जाना चाहिए। यह समान कार्यक्रमों पर भी लागू होगा क्योंकि इसका उपयोग विकिमीडिया परियोजना में व्यवहार के लिए किया जाता है। UCoC का उद्देश्य केवल उन मामलों में लागू करना है जहां विवादों को हल करने के लिए स्थानीय नीति या प्रवर्तन तंत्र अपर्याप्त हैं।
८. क्या UCoC उल्लंघनों की निजी रिपोर्टिंग मुक्त और पारदर्शी विकिमीडिया सामुदायिक संस्कृति के विपरीत होगी (उदाहरण के लिए, जहाँ हर कोई पृष्ठ इतिहास देख सकता है)?
यह बात पहले से ही है कि रिपोर्ट को कई कारणों से निजी माना जाता है जिसके लिए व्यक्तिगत पहचान योग्य जानकारी, नुकसान के जोखिम और अन्य संवेदनशील मुद्दों के प्रकटीकरण या दमन की आवश्यकता हो सकती है। ऐसी रिपोर्ट नियमित रूप से ट्रस्ट और सुरक्षा/कानूनी, प्रबंधक, उपयोगकर्ता परीक्षक, निरीक्षक, मध्यस्थता समिति और अन्य अधिकारियों को प्रस्तुत की जाती हैं। बड़ी संख्या में प्रतिभागियों ने सार्वजनिक स्थानों पर उत्पीड़न की रिपोर्ट करने में झिझक महसूस की, क्योंकि उनका मानना ​​था कि इससे विवाद और बढ़ जाएगा। दूसरे चरण में एक महत्वपूर्ण विचार ने उत्पीड़न के पीड़ितों की रक्षा के कर्तव्य के साथ पारदर्शिता को संतुलित करने की आवश्यकता का पता लगाया।
९. यूसीओसी को लागू करने के लिए जिम्मेदार लोगों को फाउंडेशन किस तरह की सहायता प्रदान करेगा?
फाउंडेशन अपने विकास के सभी चरणों के माध्यम से UCoC का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है: नीति का प्रारूप तैयार करना, प्रवर्तन पर परामर्श, और फिर प्रवर्तन मार्गों को अच्छी तरह से संचालित करना सुनिश्चित करना। यूसीओसी के कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए पहले से ही कुछ कदम उठाए जा रहे हैं। इसमें उन लोगों के लिए सहायता प्रदान करना शामिल है जो यूसीओसी को लागू करने के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, फाउंडेशन की सामुदायिक विकास टीम ने ऑनलाइन प्रशिक्षण पायलट कार्यक्रम शुरू किया है। जैसा कि हम अपने चरण-२ परामर्शों के माध्यम से समुदाय की जरूरतों को बेहतर ढंग से समझते हैं, हमें प्राथमिकता देने के लिए समर्थन के प्रकारों की बेहतर समझ होगी।

आवधिक समीक्षा

१०. क्या यूसीओसी के बनने के बाद उसकी समय-समय पर समीक्षा और संशोधन होंगे? यदि हाँ, तो ऐसा करने के लिए कौन जिम्मेदार होगा?
हाँ। प्रवर्तन दिशानिर्देशों के अनुसमर्थन के एक वर्ष बाद फाउंडेशन का कानूनी विभाग UCoC और प्रवर्तन दिशानिर्देशों की समीक्षा की मेजबानी करेगा। जैसे कि आंदोलन रणनीति प्रक्रिया द्वारा अनुशंसित सफल समीक्षाओं को उभरती शासन संरचनाओं द्वारा आसान बनाया जा सकता है।
११. अगर भविष्य में बदलाव की तत्काल आवश्यकता पड़ी तो नीतियों की समीक्षा कौन करेगा?
फाउंडेशन द्वारा आयोजित अन्य नीतियों की तरह, तत्काल परिवर्तन के अनुरोध फाउंडेशन के कानूनी विभाग को प्रस्तुत किए जा सकते हैं। विधि विभाग ने अतीत में समुदाय-संचालित संशोधन वार्तालापों का नेतृत्व किया है (उदाहरणार्थ, २०१४ उपयोग की शर्तें/भुगतान योगदान संशोधन) और इन स्थितियों को सुविधाजनक बनाने के लिए पहले ही एक संरचना और प्रक्रिया है।

स्थानीय नीतियों के साथ संघर्ष

१२. यदि स्थानीय नीतियाँ UCoC के विरोध में हों तो क्या होगा?
बोर्ड द्वारा UCoC की स्वीकृति के बाद, सभी विकिमीडिया समुदायों को उनकी मौजूदा नीतियों अवलोकन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वे UCoC अपेक्षाओं को पूरा करते हैं। समुदाय यूसीओसी से आगे जा सकते हैं और अधिक विस्तृत नीतियां विकसित कर सकते हैं, लेकिन उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनकी स्थानीय नीतियाँ यूसीओसी द्वारा निर्धारित बुनियादी मानक से नीचे न गिरें। जरूरत पड़ने पर समुदाय और फाउंडेशन नीतियों के सामंजस्य के लिए मिलकर काम कर सकते हैं। परियोजना के पूरा होने तक सहायता के लिए फाउंडेशन उपलब्ध रहेगा।
१३. क्या यूसीओसी उन परियोजनाओं पर भी लागू होगा जिनमें पहले से ही स्थानीय नीतियाँ और दिशानिर्देश हैं?
UCoC का उद्देश्य पूरे आंदोलन में आचरण के लिए सबसे बुनियादी मानक बनाना है। अच्छी तरह से विकसित नीतियों वाली परियोजनाएं आमतौर पर यूसीओसी की अपेक्षाओं को पूरा करती हैं या उससे अधिक होती हैं और सामान्य तौर पर वैश्विक नीति का पालन करने के लिए स्थानीय नीतियों में कई बदलाव नहीं करने पड़ते हैं।
१४. प्रत्येक विकिमीडिया परियोजना की स्वयं की व्यवहारिक दिशानिर्देश और नीतियाँ होती हैं जो उस परियोजना के उपयोगकर्ताओं द्वारा उनकी आवश्यकताओं के आधार पर लिखी जाती हैं। क्या यूसीओसी इन दिशानिर्देशों और नीतियों में बदलाव करने जा रहा है?
UCoC मौजूदा, प्रभावी व्यवहार मानकों को बदलने के लिए नहीं है। बल्कि, UCoC सभी परियोजनाओं के लिए एक बुनियादी मानक के रूप में काम करेगा, विशेष रूप से वे परियोजनाएँ जिनमें कुछ या कोई भी मौजूदा व्यवहार मानक नहीं हैं। समुदाय UCoC का उपयोग अधिक सांस्कृतिक रूप से उपयुक्त मानदण्डों को विकसित करने या आवश्यकतानुसार मौजूदा दिशानिर्देशों को समायोजित करने के लिए कर सकते हैं।
१५. क्या होगा अगर UCoC हमारे समुदाय की आवश्यकताओं को १००% पूरा नहीं करता है?
यूएसओसी निश्चित रूप से समुदाय की सभी जरूरतों को पूरा नहीं कर सकता है। साथ ही, यूएसओसी में भविष्य में विकसित होने की काफी संभावनाएं हैं। समुदायों को समान नीतियां विकसित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। उदाहरण के लिए, यूएसओसी समझा सकता है कि "आपको केवल एक संपादक के रूप में ही नहीं, बल्कि पूरे विकिमीडिया समुदाय के लिए सबसे अच्छा क्या है, इस पर ध्यान देना चाहिए।" यह बहुत विस्तृत है। कई विकिमीडिया परियोजनाओं में पहले से ही विस्तृत नीतियाँ हैं कि इस प्रकार के संघर्षों, जैसे कि हितों के टकराव, को कैसे संभालना है। यदि इस परियोजना में ऐसी कोई नीति नहीं है, तो यूएसओसी में ऐसा वाक्य इस विषय पर उत्पन्न होने वाले किसी भी विवाद के लिए फॉल-बैक नियम होगा। लेकिन यूएसओसी इस या अन्य विषयों से संबंधित अधिक विस्तृत नीति विकसित करने के लिए एक अच्छा अनुस्मारक हो सकता है।
१६. यूसीओसी सभी सांस्कृतिक संदर्भों में कैसे फिट होने जा रहा है?
यूएसओसी सभी सांस्कृतिक संदर्भों में सक्षम नहीं होगा, लेकिन प्रारूपकों ने इसे यथासंभव समावेशी बनाने के लिए काम किया है। यूएसओसी टीम ने विभिन्न सांस्कृतिक समुदायों से परामर्श किया और उनकी प्रतिक्रिया ली। प्रारूप समिति ने प्रारूप तैयार करते समय प्राप्त फीडबैक पर विचार किया। यदि आप मसौदे में अधिक सांस्कृतिक अंतर देखते हैं, तो कृपया वैश्विक आचार संहिता का मुख्य वार्ता पृष्ठ पर लिखें और वार्षिक समीक्षा में सम्मिलित करने के लिए इन सुझावों पर ध्यान केंद्रित करने में सहायता करें।

उपयोग की शर्तों के साथ अतिरेक

१७. क्या तब भी UCoC होना आवश्यक है जब उपयोग की शर्तें (TOU) की धारा ४ में "कुछ गतिविधियों से बचना" जैसी व्यवहार संबंधी नीतियाँ शामिल हैं?
विकिमीडिया उपयोग की शर्तों में कॉपीराइट उल्लंघन और भुगतान किए गए योगदान जैसे सामग्री दिशानिर्देशों के साथ कुछ व्यवहारिक दिशानिर्देश शामिल हैं। हालाँकि, यह एक संपूर्ण सूची नहीं है। सार्वभौम आचार संहिता का उद्देश्य समुदायों की अपेक्षाओं को और बढ़ाकर टीओयू के अनुच्छेद ४ को लागू करना है।
१८. हम उपयोग की शर्तों के खंड ४ को फिर से लिखने के बजाय एक नया यूसीओसी क्यों लिख रहे हैं?
उपयोग की शर्तों को पठनीय और संक्षिप्त रखने के लिए कुछ सूचनाओं को अन्य दस्तावेजों में अलग किया जाता है। उदाहरण के लिए, कॉपीराइट नीति और कॉमन्स कॉपीराइट नीति आपस में जुड़ी हुई हैं। उपयोग की शर्तों से सहमत होने का अर्थ उन दस्तावेजों से सहमत होना भी है। एक अलग वैश्विक आचार संहिता आगे के विस्तार की अनुमति देगी। यह अभियान के रूप में हमारी बदलती जरूरतों के आधार पर अपडेट करना भी आसान बना देगा।

विकिमीडिया फाउंडेशन की भागीदारी

१९. विकिमीडिया फाउंडेशन इस नीति में क्यों शामिल है?
इस प्रक्रिया का समर्थन करने के लिए न्यासी बोर्ड द्वारा विकिमीडिया फाउंडेशन से अनुरोध किया गया था। आंदोलन की रणनीति प्रक्रिया में समुदाय के सदस्यों द्वारा की गई सिफारिशों पर, UCoC को एक समिति जिसमें स्वयंसेवक और फाउंडेशन के कर्मचारी दोनों शामिल हैं द्वारा लिखा गया था।
२०. अगर किसी ने UCoC का उल्लंघन किया है तो विकिमीडिया फाउंडेशन की ओर से 'वास्तविक' कार्रवाई क्या होगी?
UCoC के अधिकांश उल्लंघनों के मामलों को विकिमीडिया फाउंडेशन द्वारा नहीं निपटाया जाएगा। उन्हें स्थानीय समुदायों या वैश्विक पदाधिकारियों द्वारा नियंत्रित किया जाएगा। उपयोग की शर्तों का उल्लंघन वर्तमान में उसी तरह से निपटा जाता है। प्रवर्तन दिशानिर्देशों के अनुसमर्थन के बाद प्रवर्तन का सटीक विवरण निर्धारित किया जाएगा।
२१. क्या यूसीओसी वोट के अधीन होगा?
यूएसओसी के मुख्य नीति पाठ को फरवरी २०२१ में न्यासी बोर्ड द्वारा अनुमोदित किया गया था, और यह एक सक्रिय नीति है। UCoC के लिए प्रवर्तन दिशानिर्देश २०२२ में सत्यापन प्रक्रिया से गुजरेंगे, अप्रैल २०२१ में विकिमीडिया प्रोजेक्ट मॉडरेटर्स द्वारा न्यासी बोर्ड को खुला पत्र में इस तरह की प्रक्रिया के लिए अनुरोध दर्शाते हैं।


कार्यान्वयन

२२. यूसीओसी प्रवर्तन दिशानिर्देशों में क्या शामिल है?
UCoC प्रवर्तन दिशानिर्देश में निवारक कार्रवाई (यूसीओसी जागरूकता को बढ़ावा देना, यूसीओसी प्रशिक्षण की सिफारिश करना, दूसरों के बीच) और उत्तरदायी कार्रवाई (फाइलिंग के लिए प्रक्रियाओं का वर्णन करना, रिपोर्ट किए गए उल्लंघनों को संसाधित करना, रिपोर्ट किए गए उल्लंघनों के लिए संसाधन प्रदान करना शामिल हैं।, प्रवर्तन कार्यों को निर्दिष्ट करना उल्लंघन...) का उद्देश्य समुदाय के सदस्यों को सभी के लिए एक सुरक्षित कार्य वातावरण प्रदान करने के लिए समुदायों में निष्पक्ष और न्यायसंगत प्रक्रियाओं के साथ बेहतर समन्वय में मदद करना है।
२३. दिशानिर्देशों को परिवर्तनों के साथ कितनी बार अद्यतन(अपडेट) किया जाएगा?
नीति पाठ और दिशानिर्देश दोनों की आवधिक समीक्षा होगी, जिसमें कार्यान्वयन के एक वर्ष के भीतर शामिल है।
२४. यूसीओसी की देखरेख कौन करेगा?
सार्वभौमिक आचार संहिता समन्वय समिति, जिसे U4C के रूप में जाना जाता है। U4C, UCoC के उल्लंघनों की रिपोर्ट की निगरानी करेगा और ये अतिरिक्त जाँच में संलग्न हो सकता हैऔर उपयुक्त कार्रवाई कर सकता है। U4C नियमित रूप से संहिता के प्रवर्तन की स्थिति की निगरानी और मूल्यांकन करेगा और विकिमीडिया फ़ाउंडेशन और समुदाय को विचार के लिए UCoC में उपयुक्त परिवर्तनों का सुझाव दे सकता है। जब आवश्यक हो, U4C मामलों को संभालने में विकिमीडिया फाउंडेशन की सहायता करेगा। U4C, UCoC को बदल नहीं सकता है, फाउंडेशन और उसके सहयोगियों के बीच असहमति को संभाल नहीं सकता है, UCoC को दरकिनार या अवहेलना करने वाले जो नियम बना सकता है, या ऐसे किसी भी मामले पर कार्रवाई कर सकता है जो UCoC या इसके प्रवर्तन से संबंधित नहीं है।
२५. U4C अन्य निर्णय लेने वाली संस्थाओं जैसे मध्यस्थता समितियों के साथ कैसे बातचीत करेगा?
U4C का उद्देश्य अंतिम निर्णय लेने वाली संस्था के रूप में कार्य करना है जहाँ कोई भी उच्च-स्तरीय निर्णय लेने वाला निकाय मौजूद नहीं हो (जैसे कि मध्यस्थता समितियाँ या उनके समान प्रक्रियाओं से रहित समुदाय), या जहाँ उच्च-स्तरीय निर्णय लेने वाले निकायों द्वारा मामलों को आगे लाया जाता है। U4C उन गंभीर व्यवस्थित मामलों के लिए निर्णय लेने वाली संस्था के रूप में भी कार्य करेगा जिन्हें मौजूदा प्रवर्तन संरचनाओं द्वारा नियंत्रित नहीं किया जा सकता है।
२४. U4C कैसे बनेगा?
प्रारूपण समिति ने U4C निर्माण समिति को बनाने की वकालत की है। U4C निर्माण समिति में समुदाय के सदस्य शामिल होंगे जो U4C की स्थापना के लिए एक प्रक्रिया बनाने के लिए फाउंडेशन के साथ काम करेंगे।